Hindi Story for Class 6 with Moral – Ant and the Elephant

Hindi Story for Class 6 with Moral – Ant and the Elephant


Hindi Short Story for class 6 with Moral : Hello dear readers, I think you all are familiar with this very short story in Hindi with moral for class 6. This is a story in Hindi written of an ant and the large elephant. I am presenting this Hindi Story for class 6 with Moral. I hope you will like it. 

Story in Hindi Written for Class 6 with Moral – चीटि और हाथी - Ant and the Elephant 


Hindi Story for Class 6 with Moral



एक जंगल में एक विशाल हाथी रहता था। ( Hindi story for class 6 with moral ) वह आकार में बहुत ही विशाल और ताकतवर था। वह पूरे जंगल में सबसे ज्यादा ताकतवर था। और इस बात का फायदा तो हमेशा उठाया करता था। वह हमेशा अपने से कमजोर जानवरों को परेशान करता रहता था। जंगल के सारे जानवर उससे डरते थे। 

वह अकेला हाथी पूरे जंगल के जानवरों को परेशान करके रखा था। सिर्फ जानवर ही नहीं बल्कि पेड़ पर रहने वाले पक्षी उससे परेशान रहते थे। जब पक्षियां अपने घोसले में नहीं होती, हाथी पेड़ को जोर जोर से हिला कर उन पक्षियों के घोंसले गिरा देता। तो कभी पेड़ पर रह रहे पक्षियों के ऊपर अपनी सुर में पनी भर कर उनपे फेक देता। 

Hindi Story for Class 6 with Moral


जमीन पर रह रहे जानवर जब भी उसके आसपास नहीं जाते। ( Hindi Story for kids ) जब भी कोई छोटा सा जानवर जैसे खरगोश, हिरण, गिलहरी या कोई भी उसके सामने आता वह उन सभी को यह कहकर डराने लगता कि वह उन्हें अपने पैरों तले कुचल देगा। इसीलिए सारे जानवर भी उसे डरा करते थे। वही उसी जंगल में चीटियों का एक झुंड भी रहता था। चीटियां काफी मेहनती थी। वह पूरे दिन अपने लिए खाने की तलाश में इधर-उधर भटकती रहती। जो भी उन्हें मिलता वह उसे उठाकर अपने घर ले आती।

एक बार जब चीटियां अपने लिए भोजन इकट्ठा करके उसे अपने घर ले जा रही थी तभी वह हाथी उनके रास्ते में आ गया। ( Story in Hindi written ) हाथी अपने सुर में पानी भरकर लाया था। उसने वह पानी उन चिटियों के ऊपर फेंक दिया। इससे चीटियों को गुस्सा आया। उनकी सारी मेहनत बेकार हो गई थी। परंतु आखिर वह छोटी सी चीटियां विशाल हाथी का कर भी क्या सकती थी। वहां से चली गई। 


उन्हीं में से एक चींटी को यह बात बिल्कुल अच्छी नहीं लग। ( Hindi Story Cartoon ) उसने मन ही मन हाथी को सबक सिखाने का ठान लिया था। जब यह बात उसने अपने एक मित्र चींटी को बताया उसने उसका मजाक उड़ाते हुए कहा तुम इतनी छोटी सी हो और वह इतना विशाल हाथी तुम उसका क्या बिगाड़ सकती हो। उस समय उस चीटि ने अपने मित्र के इस सवाल का कोई जवाब नहीं दिया। 

अगले दिन जब चीटियों का झुंड वापस अपने लिए भोजन धुंडने जा रहा था, तो उस चींटी ने देखा कि वह हाथी सो रहा है। अपने झुंड से अलग हो गई और हाथी की तरफ आ गई। वह चुपचाप सोते हुए हाथी की सूंड में घुस गई। और हाथी की सूंड में काटना शुरू कर दिया। 

जैसे ही चींटी ने हाथी की सुर में काटा हाथी एकदम से जाग गया। ( Short Story in Hindi with moral ) फिर चींटी ने हाथी की सुर में इधर-उधर काटना शुरू कर दिया। हाथी दर्द से चीखने लगा। वह चींटी को बाहर निकालने के लिए सारी प्रयास कर लिया। परंतु वह चींटी को बाहर नहीं निकल पाया। अब वह चींटी के सामने गिर गर्गीराने लगा। वह चीटि से बाहर आने की विनती करने लगा। इतना विशाल हाथी एक छोटी सी चींटी के सामने बेबस हो गया था। तब चींटी ने उसे चेतावनी दी कि वह आगे से कभी किसी भी जानवर को परेशान नहीं करेगा। और यह चेतावनी देकर चींटी उसके सूंड से बाहर आ गई। 

Hindi Story for Class 6 with Moral



तो हाथी को अपनी गलती का एहसास हुआ। ( Hindi Story for class 6 with Moral ) उसने चींटी से माफी मांगी और कहा कि अब मुझे एहसास हुआ कि जब मैं दूसरी जानवरों को परेशान करता था तो उन्हें कैसा लगता था। मुझे क्षमा कर दो। आज के बाद में किसी को भी परेशान नहीं किया करूंगा। हाथी को अपनी गलती का एहसास हो उसे पछतावा भी हुआ। उसने दोबारा ऐसी गलती ना करने की कसम खाई। 
  

सीख:- 

इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि हमें किसी को भी छोटा नहीं समझना चाहिए। अपने से कमजोर को परेशान नहीं करना चाहिए। जिस तरह इस कहानी में एक छोटी सी चींटी उस विशाल हाथी पर भारी पड़ गई वैसे ही अगर कोई कमजोर अपने से ताकतवर को सबक सिखाने का ठान ले तो वह भी कुछ भी कर सकता है। इसीलिए हमें किसी कमजोर पर ना तो अत्याचार करना चाहिए और ना ही उनका मजाक उड़ाना चाहिए। 

Moral of this Story for kids:- 

We learn from this story that we should not consider anyone small. We should not bother weak ones. Just as in this story, a small ant fell on that huge elephant, in the same way, if a weak one decides to teach a lesson to the stronger than himself, he can do anything. That is why we should not make fun of any weak ones or small ones. 

Read More:-

Thank you so much for reading this Hindi story for class 6 with moral. I hope you liked this story in Hindi written. Please do share your thoughts on the comment section below. Here, in this site, you will also get many more motivational Hindi Story for class 6 with moral and magical story in Hindi.

Post a comment

–>