Good Moral Story in Hindi for kids - महात्मा गाँधी की कहानी


Good Moral stories in Hindi:- Here you will get some good moral story in Hindi of Mahatma Gandhi story. There are lots of Mahatma Gandhi’s story are present which teach us many good moral values of life. These good moral story in Hindi are very helpful for kids. I hope you’ll like this good story for kids in Hindi 😊

Good Moral Story in Hindi - महात्मा गाँधी की कहानी - Mahatma Gandhi Story



Good Moral Story in Hindi


कहानी भारत की आजादी के समय की है। ( Good Moral Stories in Hindi ) उस समय पूरे देश में गांधीगिरी चल रही थी। पूरे देश के लोगों के लिए गांधी की बातें सर्वोपरि थी। यह कहानी उसी वक्त की हैं। एक रमेश नाम का लड़का था। उसे बार-बार चीनी खाने की बहुत बुरी आदत थी। वह हमेशा दिन भर में कई बार चीनी खाता रहता। 

उसकी मां उसे बहुत परेशान रहती थी। उसकी मां ने कई बार उसे इतना ज्यादा चीनी खाने से मना किया। बहुत समझाया कि चीनी खाने से दांत सड़ जाते हैं तथा अन्य अन्य बहाने भी बनाए। ( Best moral story in Hindi ) मां ने कई डरावनी कहानियां भी उसे सुनाई। एक ऐसी मां अपनी तरफ से पूरा प्रयास कर रही थी कि वह अपने बेटे रमेश को इस बुरी आदत से छुटकारा चला सके। मां ने समझाया थोड़ा मोड़ा चीनी खाना कोई बुरी बात नहीं है परंतु जितनी अधिक मात्रा में तुम खाते हो यह सही नहीं है। परंतु रमेश वर्मा की किसी भी बातों का कोई भी असर नहीं हुआ। वह मां की बात नहीं सुना। 

रमेश की मा रमेश के इस आदत से इतनी ज्यादा परेशान थी कि वह कई लोगों को भी बोल चुकी थी कि वह रमेश को समझाएं कि वह अपनी इस बुरी आदत को छोड़ दें। ( Mahatma Gandhi Story ) कई लोगों ने भी उसकी मां की बात मानकर रमेश को बहुत समझाया परंतु रमेश ने किसी की नहीं सुनी। फिर एक आदमी ने रमेश की मां को कहा कि आप इसे गांधी जी के पास क्यों नहीं ली जाती है। रमेश भाई गांधी जी की बात मानता है शायद अगर गांधी जी मना करें तो ही उनकी बात मान जाए। 

Good Moral Story in Hindi


उस व्यक्ति की बात सुनकर उसकी मां ने निश्चय किया उसे गांधी जी के पास लेकर जाएगी। ( Good moral story in Hindi ) रमेश और उसकी मत होना गांधी जी के पास पहुंचे। रमेश की मां ने गांधीजी को अपनी समस्या बताएं और गांधीजी से कहा कि रमेश आपकी बातें बहुत सुनता है और मानता भी है। आप अगर इसे मना कर दें तो शायद यह सुधर जाए। गांधीजी ने रमेश की मां की बात सुनी थोड़ी देर चिंतन किया और उनसे कहा कि कृपया करके आप दो दिन बाद आए। ( good story for kids in Hindi ) रमेश की मां गांधी जी की बात सुनकर फिर वहां से चली गई। 


Click below to read more:- 

दो दिन बाद रमेश की मां रमेश को लेकर गांधी जी के पास गई, परंतु गांधी जी ने उन्हें आज फिर यह कह कर लौटा दिया कि आप कृपा करके कल आये। फिर रमेश की मां गांधी जी की बात सुनकर वापस आ गई। ( good story for kids in Hindi ) और अगले दिन दोबारा गांधीजी के पास गई। तब जाकर गांधी जी ने रमेश को समझाया कि इतना अधिक चीनी खाना बुरी बात है। मां की बात सुनो मैं तुम्हारे भले के लिए कहती हैं। और रमेश भी गांधी जी की बात मान गया। परंतु अब उसकी मां की मन में एक शंका हुई। रमेश की मां ने गांधी जी से पूछा सिर्फ इतना सा कहने के लिए आपने मुझे दो बार यहां से वापस क्यों घुमाया। यह बात तो आप पहले भी रमेश को समझा सकते थे फिर आपने ऐसा क्यों किया। 

Good Moral Story in Hindi


तब गांधी जी ने रमेश की मां से कहा," दरअसल मैंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि जब पहले दिन आप मेरे पास रमेश की शिकायत लेकर आई थी तो उस समय मुझे भी चीनी खाने की यह बुरी आदत थी। ( Good moral stories ) मैं भी बहुत अधिक मात्रा में चीनी खाया करता था। अब जो कार्य में खुद करता था मैं उसके लिए किसी और को कैसे मना कर सकता था। मैं खुद बुरे कार्य करते हुए दूसरों को स्वीकारी के लिए मना नहीं कर सकता। जब आप पहले दिन मेरे पास शिकायत लेकर आई तब से लेकर अभी तक मैं भी अपनी आदत सुधारने में लग गया। इसलिए मैंने आपसे 2 दिन का समय मांगा। पर फिर कल जब आप आई तू ही मेरी आदत पुरी तरह से नहीं छोटी थी। ( Good moral story in Hindi ) इसीलिए मैंने आपको आज बुलाया। और जब आज मेरी भी यह बुरी आदत बुरी तरह से छूट गई तब मैंने रमेश को समझाया।" 

तुम रमेश की मां को गांधी जी की बात समझ आएगी और फिर वह अपने घर खुशी-खुशी वापस आ गई। 

सीख:- 

गांधी जी की इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि जो गलत कार्य हम खुद करते हैं उसके लिए हम किसी और को कैसे मना कर सकते हैं। अगर कोई सामने वाला कोई बुरा कार्य कर रहा है और हम भी वही करते हैं तो हमें कोई हक नहीं है कि हम उसे जाकर समझाएं। उसे समझाने के लिए, उसे बदलने के लिए पहले हमें खुद को बदलना होगा। जब हम खुद कोई बुरा कार्य नहीं करेंगे तभी हम किसी को कोई बुरे कार्य करने से रोकने का हक रखते हैं।  

Moral of this Hindi Short Story:-

From this story of Gandhiji, we learn that we don’t have any right to stop someone else for the wrong act, we already use to do. If someone in front is doing a bad act and we used to do the same then we have no right to go and explain it. To convince him, to change him first we have to change ourselves. When we ourselves will not do any bad deed, then we have the right to stop anyone from doing any bad deed. 


Thank you so much for reading this good moral story in Hindi. I hope you liked this good story for kids in Hindi and also learnt some good moral values from this good moral story in Hindi.

Post a comment